भारत की प्रमुख नदिया उनका उद्गम, संगम (Major rivers in India)

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग में, आज हम आपको इस लेख में भारत की प्रमुख नदिया उनका उद्गम, संगम (Major rivers in India) के बारेमे बताने ज्या रहे है.

भारत की प्रमुख नदिया उनका उद्गम, संगम (Major rivers in India)

आप सभी को पता है की भारत यह एक प्रगतिशील देश है. भारत देश में बहुत साड़ी नदिया बहती है. बहुत सारे लोग इन्टरनेट पर भारत की प्रमुख नदियों की सूची, भारत की प्रमुख नदियों की पीडीऍफ़ के लिए सर्च करते है मगर उन्हें सही रिजल्ट नही मिल पाता है, आज इस लेख में हम आपको भारत की प्रमुख नदिया उनका उद्गम, संगम (Major rivers of India) के बारेमे बताएँगे.

Static GK PDF in Hindi

भारत की प्रमुख नदिया उनका उद्गम, संगम की सूचि (List Of Major rivers in India)

  • गंगा:- गंगा का उद्गम गंगोत्री के पास गोमुख हिमानी है. यह समुद्र तल से करीब 3900 मीटर की उंचाई पर है. इस नदी का संगम बंगाल की खाड़ी से होता है. भारत में गंगा की लंबाई 2525 किलोमीटर है.
  • सतलुज:- सतलुज मानसरोवर झील के पास स्थित राकस ताल से उत्पन्न होती है. समुंद्र तल से 4,555 मीटर की उंचाई पर है. इस नही का संगम चेनाब नदी से होता है, नदी की लम्बाई कुल 1500 किलोमीटर, भारत में 1050 किलोमीटर है.
  • सिन्धु नदी:- यह नदी तिब्बत में मानसरोवर झील के पास सानोख्याबाब हिमनद से उत्पन्न होती हैं. इस नदी का संगम अरब सागर से होता है. सिन्धु नदी की कुल लंबाई 2, 880 किलोमीटर, भारत में 1114 किलोमीटर है.
  • रावी नदी:- रावी नदी कांगड़ा जिले के रोहतांग दर्रे के पास से उत्पन्न होती है. इस नदी का संगम चेनाब नदी से होता है. इसकी कुल लंबाई 725 किलोमीटर है.
  • व्यास नदी:- रोहतांग दर्रे के पास स्थित व्यास कुंड उत्पन्न होती है. समुंद्र तल से 4,330 मीटर की उंचाई पर है. इस नदी का संगम सतलुज नदी से होता है. इसकी कुल लंबाई 470 किलोमीटर है.
  • झेलम नदी:- कश्मीर के बेरीनाग के पास शेषनाग झील से झेलम उत्पन्न होती है. इस नदी का संगम चेनाब नदी से होता है. इसकी कुल लंबाई 724 किलोमीटर है. भारत में 400 किलोमीटर है.
  • यमुना नदी:- यमुना, बंदरपूंछ के पश्चिमी ढाल पर स्थित यमुनोत्री हिमानी से उत्पन्न होती है. यमुना की उंचाई समुंद्र तल से 6,316 मीटर है. इस नदी का संगम गंगा से होता है. इसकी कुल लंबाई 1,375 किलोमीटर है.
  • चम्बल नदी:- मध्य प्रदेश में मऊ के पास स्थित जाना पाव पहाड़ी से उत्पन्न होती है. इसकी उंचाई समुंद्र तल से 616 मीटर है. इस नदी का संगम उत्तर प्रदेश के इटावा से 38 किलोमीटर दूर यमुना नदी से होता है. इसकी कुल लंबाई 1,050 किलोमीटर है.
  • रामगंगा नदी:- यह नदी नैनीताल के पास मुख्य हिमालय श्रेणी का दक्षिणी भाग से उत्पन्न होती है. इस नदी का संगम कन्नौज के पास गंगा नदी से होता है. इसकी कुल लंबाई 696 किलोमीटर है.
  • शारदा नदी:- यह नदी कुमाऊं हिमालय का मिलाम हिमनद से उत्पन्न होती है, इस नदी का संगम बहरामघाट के पास घाघरा नदी से होता है. इसकी कुल लंबाई 602 किलोमीटर है.
  • घगरा नदी:- यह नदी नेपाल में तकलाकोट से 37 किलोमीटर उत्तर पश्चिम में म्पसातुंग हिमानी से उत्पन्न होती है. इस नदी का संगम सारण और बलिया जिले की सीमा पर गंगा नदी से होता है. इसकी कुल लंबाई 1080 किलोमीटर है.
  • गण्डक नदी:- यह नदी नेपाल से उत्पन्न होती है. इस नदी का संगम पटना के पास गंगा नदी से होता है. भारत में कुल लंबाई 425 किलोमीटर है.
  • कोसी नदी:- यह नदी गोसाईथान छोटी के उत्तर में उत्पन्न होती है. इस नदी का संगम करागोल के दक्षिण-पश्चिम में गंगा नदी से होता है. इसकी कुल लंबाई 730 किलोमीटर है.
  • सोन नदी:- यह नदी अमरकंटक की पहाड़ियां से उत्पन्न होती है. इस नदी का संगम पटना के पास गंगा नदी से होता है. इसकी कुल लंबाई 780 किलोमीटर है.
  • भ्रमपुत्र नदी:- यह नदी तिब्बत में मानसरोवर झील से 80 किलोमीटर की दूरी पर स्थित हिमानी से उत्पन्न होती है. इस नदी का संगम बंगाल की कड़ी से होता है. इसकी कुल लंबाई 2,900 किलोमीटर है. भारत में 916 किलोमीटर है.
  • नर्मदा नदी:- यह नदी विंध्याचल पर्वत श्रेणियों में स्थित अमरकंटक नाम के स्थान से उत्पन्न होती है. इस नदी का संगम खम्बात की खाड़ी से होता है. इसकी कुल लंबाई 1,312  किलोमीटर है.
  • ताप्ति नदी:- यह नदी मध्य प्रदेश के वैतूल जिले से उत्पन्न होती है. इस नदी का संगम सूरत के पास खम्भात की खाड़ी से होता है. इसकी कुल लंबाई 724 किलोमीटर है.
  • महानदी:- यह नदी छत्तीसगढ़ के रायपुर जिले में सिहावा के पास उत्पन्न होती है. इस नदी का संगम बंगाल की खाड़ी से होता है. इसकी कुल लंबाई 815 किलोमीटर है.
  • शिप्रा नदी:- यह नदी मध्य प्रदेश के इंदौर जिले की ककरी बरडी नमक पहाड़ी से उत्पन्न होती है. इस नदी का संगम चम्बल नदी से होता है. इसकी कुल लंबाई 560 किलोमीटर है.
  • माहि नदी:- यह नदी मध्य प्रदेश के धार जिले की महद झील से उत्पन्न होती है. इस नदी का संगम खम्बात की खाड़ी से हुवा है. इसकी कुल लंबाई 585 किलोमीटर है.
  • लूनी नदी:- यह नदी अजमेर जिले में स्थित नाग पहाड़ से उत्पन्न होती है. इस नदी का संगम कच्छात की कड़ी से होता है. इसकी कुल लंबाई 320 किलोमीटर है.
  • सोम नदी:- यह नदी उदैपुर जिले में बीछा मेंडा पर से उत्पन्न होती है, इस नदी का संगम बपेश्वर के पास माहि नदी से होता है.
  • साबरमती नदी:- यह नदी उदैपुर जिले में अरावली पर्वत पर स्थित जयसमुद्र झील से उत्पन्न होती है. इस नदी का संगम खम्भात की खाड़ी से होता है. इसकी कुल लंबाई 371 किलोमीटर है.
  • कृष्ण नदी:- यह नदी महाबलेश्वर के पास पश्चिम घाट पहाड़ से उत्पन्न होती है. इसकी उंचाई समुद्र तल से 1337 मीटर है.
  • गोदावरी नदी:- यह नदी महाराष्ट्र के नासिक जिले की एक पहाड़ी से उत्पन्न होती है. इस नदी का संगम बंगाल की खाड़ी से होता है, इसकी कुल लंबाई 1465 किलोमीटर है.
  • कावेरी नदी:- यह नदी कर्नाटक के कुर्ग जिले में स्थित ब्रह्म गिरी पहाड़ी से उत्पन्न होती है. इस नदी का संगम बंगाल की कड़ी से होता है. इसकी कुल लंबाई 1465 किलोमीटर है.
  • तुंगभद्र नदी:– यह नदी कर्नाटक के पश्चिम घाट पहाड़ की गंगामूल चोटी से तुंगा और पास में ही काडूर से भद्रा नदी का उद्गम होती है. इस नदी का संगम कृष्ण नदी से होता है. इसकी कुल लंबाई 331 किलोमीटर है.
  • पेन्नार नदी:– यह नदी कर्नाटक की नंदीदुर्ग पहाड़ी से होता है. इस नदी का संगम बंगाल की खाड़ी से होता है. इसकी कुल लंबाई 597 किलोमीटर है.
  • दक्षिणी टोंस:- यह नदी कैमूर पहाड़ियों में स्थित तम्साकुंड जलाशय से उत्पन्न होती है, इस नदी का संगम सरसा के पास गंगा नदी से होता है. इसकी कुल लंबाई 265 किलोमीटर है.
  • पेरियार नदी:- यह नदी पेरियार जिल से उत्पन्न होती है. यह नदी केरल में प्रवाहित होती है.
  • उमियम नदी:- यह नदी मेघालय की उमियम झील से उत्पन्न होती है. इस नदी का संगम बंगाल की खाड़ी से होता है.
  • हुगली नदी:- यह गंगा की एक शाखा है जो पश्चिम बंगाल के धुलिया की दक्षिण गंगा से अलग होती है. इस नफी का संगम बंगाल की खाड़ी से होता है. जलांगी इसकी प्रमुख सहायक नदि है.
  • बैगाई नदी:- यह नदी तमिलनाडु के पास मदुरै से उत्पन्न होती है. इस नदी का संगम बंगाल की खाड़ी से होता है. इसकी कुल लंबाई 228 किलोमीटर है.
भारत की प्रमुख नदिया उनका उद्गम, संगम PDF Download

आपको और Exam PDF चाहिए तो आप आसानी से  हमने निचे जो लिंक दियी है उससे हमारे Whatsapp Group या Telegram Channel को Join कर सकते हो. अगर आपको किसी भी Exam के बारेमें जानकारी चाहिए तो आप आसानी से हमे Simplejb7274@gmail.com पर Mail कर सकते है.

Conclusion

हमने आपको इस लेख में भारत की प्रमुख नदिया उनका उद्गम, संगम (Major rivers of India) के बारेमे बताया है. उम्मीद है की हमने आपको जो भी जानकारी दी है वह आपको जरुर पसंद आई होंगी.

हमने आपको इस लेख में भारत की प्रमुख नदिया के बारेमे बताया, अगर आपको इस लेख में कुछ भी दिक्कत आती है तो आप आसानी से हमे Commnet करके पूछ सकते है. हमने दी गयी पोस्ट आपको अच्छी लगी तो आप हमारी Notification On करे साथ ही हमारे Youtube Channel को Subscribe जरुर करे. धन्यवाद…!


यह भी पढ़े:-


FAQs On भारत की प्रमुख नदिया

भारत की प्रमुख नदी कौन सी है?

भारत की प्रमुख नदी गंगा मानी ज्याति है, मगर ज्यादातर भारत में बहुत साड़ी प्रमुख नदिया है.

गंगा नदी कहां पर स्थित है?

गंगा नदी की सर्वाधिक लम्बाई उत्तर प्रदेश में है.

भारत सरकार ने भारत में कितनी नदियों को प्रमुख नदियों के रूप में वर्गीकृत किया है?

भारत सरकार ने भारत में चार नदियों को प्रमुख रूप में वर्गीकृत किया है. जिसमे हिमालय की नदियां, (2) प्रायद्वीपीय नदियां, (3) तटवर्ती नदियां और (4) अंतःस्थलीय प्रवाह क्षेत्र की नदियां है.

भारत की सबसे प्राचीन नदी कौन सी है?

भारत की सबसे प्राचीन नदी सिंधु नदी है. इसके अतिरिक्त सरस्वती , विस्ता , गंगा यमुना कावेरी सतलज रावी महानदी ब्रह्मपुत्र, कृष्णा, नर्मदा नदिया भी प्राचीन मानी ज्याति है.

भारत की कौन सी नदी डेल्टा बनाती है?

नदी के मुहाने पर उसके द्वारा बहाकर लाय गए अवसादों के निक्षेपण से बनी त्रिभुजाकार आक्रति होती हैं. इसको डेल्टा कहते है. गंगा , कावेरी और महानदी भारत की नदियां है जो डेल्टा बनाती है.

कौन सी नदी पश्चिम की ओर प्रवाहित होती है?

पश्चिम की ओर प्रवाहित मुख्य नदियां नर्मदा, ताप्ती (तापी), साबरमती, माही तथा लूनी हैं.

भारत में कुल कितनी नदियां है?

भारत में छोटी-बड़ी लगभग 200 मुख्य नदियां हैं.

सबसे प्रदूषित नदी कौन सी है?

भारत की सबसे प्रदूषित नदी यमुना है.

भारत मे सबसे बडी नदी कौन सी है?

सिन्धु नदी सबसे बड़ी नदी है.

गंगा नदी के कितने नाम है?

गंगोत्री से गंगा सागर तक गंगा नदी को लगभग 108 अलग- अलग नामों से जाना जाता है. इन 108 नामों का पुराणों में भी जिक्र है, लेकिन इनमें से 11 नाम ऐसे हैं जिनसे गंगा को भारत के अलग-अलग इलाकों में जाना जाता है.

दुनिया की सबसे बड़ी और लंबी नदी कौन सी है?

भले ही आप यह नाम पहली बार सुन रहे होंगे लेकिन अफ्रीका की नील नदी वर्ल्ड की सबसे लंबी नदी है.

Leave a Comment